लोकसभा चुनाव: रुझान में एनडीए 291, इंडी गठबंधन 231 सीटों पर आगे, अब तक तो अकेले भाजपा को मिलेगा बहुमत?

0

नई दिल्‍ली। लोकसभा चुनाव के वोटों की गिनती मंगलवार को सुबह से शुरू हो गई। 543 में से 542 सीटों पर गिनती हो रही है. गुजरात में भाजपा एक सीट पहले ही जीत चुकी थी. रुझान में तो एनडीए की सरकार बनाती दिख रही है, पर 2019 के चुनाव में अकेली भाजपा ने 303 सीटें जीतीं थीं. एनडीए 352 सीटों पर था लेकिन इस बार क्‍या भाजपा अकेले बहुमत के आंकड़े को छू पाएगी. रुझानों में तो ऐसा होते दिखाई नहीं दे रहा है. इधर, कई राज्य ऐसे हैं जहां मुकाबला कांटे का है. खासतौर से उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, झारखंड, तेलंगाना में इंडी गठबंधन लगातार एनडीए को टक्कर दे रहा है. गुजरात और राजस्थान जैसे राज्यों में भी इस बार इंडी गठबंधन खाता खोलते नजर आ रहा है. जबकि 2019 में दोनों ही राज्यों में एनडीए ने सूपड़ा साफ किया था.

लोकसभा चुनाव के रुझान में वोटों की गिनती के बीच पल-पल तस्वीर बदल रही है. खासतौर से यूपी, महाराष्ट्र, बंगाल में इंडी गठबंधन बराबर जोर लगा रहा है. यदि ओवरऑल बात करें तो फिलहाल 543 लोकसभा सीटों के रुझान में 291 सीटों पर एनडीए आगे चल रही है, इंडिया गठबंधन 231 सीटों पर आगे है. अन्य के खाते में 21 सीटें जाती दिख रही हैं.
लोकसभा चुनाव में इस बार मुख्य मुकाबला एनडीए और इंडी गठबंधन के बीच है. बीजेपी के नेतृत्व में एनडीए ने इस बार 400 पार का नारा दिया था तो कांग्रेस के नेतृत्व 25 से ज्यादा दलों के साथ बना इंडिया गठबंधन ने भी लगातार सत्ता में आने का दावा कर रहा था. अब तक के रुझानों की बात करें तो फिलहाल एनडीए मुकाबले में आगे है, लेकिन इंडी गठबंधन भी लगातार जोर लगा रहा है.

राज्‍य बार  चुनावों का रुझान

उत्तर प्रदेश : एनडीए को उत्तर प्रदेश में बड़ा झटका लगता दिख रहा है, यहां 80 सीटों में एनडीए 35 सीटों पर आगे चल रही हैं, जबकि इंडिया गठबंधन को 44 सीटों पर बढ़त मिली है. सबसे खास बात ये है कि समाजवादी पार्टी की सीटों में भी खासी बढ़ोतरी हुई है. इंडिया गठबंधन की 44 सीटों में से 35 सीटों पर अकेले समाजवादी पार्टी आगे है.

मध्य प्रदेश : मध्य प्रदेश में इंडिया गठबंधन का सूपड़ा साफ होता नजर आ है. यहां की सभी 29 सीटों पर बीजेपी आगे चल रही है. छिंदवाड़ा से नकुलनाथ भी बड़े अंतर से पीछे चल रहे हैं.

गुजरात: पिछली बार गुजरात की सभी 26 सीटों पर कब्जा जमाने वाली एनडीए को यहां एक सीट का नुकसान होते दिख रहा है. यहां इंडिया गठबंधन एक सीट पर आगे चल रही है.

तमिलनाडु: दक्षिण के किले में सेंध लगाने में बीजेपी कामयाब होती नहीं दिख रही. यहां की 39 सीटों मे से एनडीए महज एक सीट पर आगे चल रही है. 35 सीट पर इंडिया गठबंधन आगे है. अन्नाद्रमुक भी 3 सीटों पर आगे चल रही है.

तेलंगाना: दक्षिण के प्रमुख राज्य तेलंगाना में एनडीए ओर इंडिया गठबंधन के बीच कांटे की फाइट है. यहां की 17 सीटों में से 8 सीटों पर एनडीए और 8 सीटों पर इंडिया गठबंधन आगे है. एक सीट निर्दलीय के खाते में जा रही है.

महाराष्ट्र : एनडीए को महाराष्ट्र में भी खासा नुकसान होता दिख रहा है. यहां की 48 सीटों में से इंडिया गठबंधन 30 सीटों पर आगे चल रहा है. एनडीए के खाते में 17 सीटें ही जाती नजर आ रही हैं.

दिल्ली: एनडीए को दिल्ली में भी एक सीट का नुकसान होते नजर आ रहा है. यहां की 7 लोकसभा सीटों में से 6 सीटों पर एनडीए आगे हैं, जबकि एक सीट इंडी गठबंधन आगे है.

कर्नाटक : दक्षिण का द्वार कहे जाने वाले कर्नाटक में भी एनडीए को नुकसान होता नजर आ रहा है. यहां की 28 सीटों में से 21 सीटों पर एनडीए आगे हैं, जबकि 7 सीटों पर इंडिया गठबंधन आगे चल रहा है.

केरल : एनडीए यहां कोई भी कमाल करती नजर नहीं आ रही है. यहां 20 में से महज 2 सीटों पर एनडीए आगे चल रही है, जबकि इंडिया गठबंधन के खाते में 17 सीटें जाती नजर आ रही हैं. 1 सीट एलडीएफ के खाते में जा रही है.

राजस्थान: यहां भी एनडीए को बड़ा नुकसान होता नजर आ रहा है. यहां की 25 सीटों में से एनडीए 14 सीटों पर आगे चल रही है, जबकि पिछली बार यह सभी सीटें एनडीए को मिली थीं. इंडिया गठबंधन 11 सीटों पर आगे चल रहा है.

पश्चिम बंगाल : बंगाल में ममता बनर्जी की टीएमसी सबसे आगे है जो 29 सीटों पर बढ़त बनाए है. 10 सीटों पर एनडीए आगे है, जबकि 1 सीट इंडिया गठबंधन के खाते में जाती नजर आ रही है.

हरियाणा : हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों में भी एनडीए को नुकसान होता नजर आ रहा है, यहां इंडिया गठबंधन 6 सीटों पर आगे है, जबकि एनडीए 4 सीटों पर बढ़त बनाए है. पिछली बार यहां की सभी सीटों पर एनडीए ने कब्जा जमाया था.

उत्तराखंड-हिमाचल : इन दोनों ही पहाड़ी राज्यों में एनडीए एक बार फिर सूपड़ा साफ करती नजर आ रही है. उत्तराखंड की 5 और हिमाचल की 4 सीटें एनडीए के खाते में जाती दिख रही हैं.

बिहार : बिहार की 40 सीटों में से एनडीए 33 सीटों पर आगे नजर आ रही है, फिलहाल इंडिया गठबंधन 7 सीटों पर आगे है. पूर्णिया सीट पर मजबूत माने जा रहे पप्पू यादव पीछे चल रहे हैं.

झारखंड: एनडीए झारखंड में आगे चल रही है, हालंकि इंडी गठबंधन की ओर से उसे लगातार टक्कर दी जा रही है. यहां की 14 सीटों में से 10 सीटों पर एनडीए आगे चल रही है, 4 सीटें इंडी गठबंधन के खाते में जाती नजर आ रही हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed